Cyber Crime क्या होते है, Cyber Crime होने पर क्या करे

Cyber Crime क्या होते है, और Cyber Crime होने पर क्या करे, और इससे कैसे बचें | –

हेलो दोस्तों आप का स्वागत है, आज हम बात करेंगे | Cyber Crime क्या होते है, और Cyber Crime होने पर क्या करें, और Cyber Crime से कैसे बचें | Cyber Crime एक ऐसा क्राइम होता है, जो कंप्यूटर, इंटरनेट, नेटवर्क द्वारा किया जाता है | आजकल सभी लोग किसी न किसी तरीके से मोबाइल नेटवर्क, कंप्यूटर , टेक्नोलॉजी से जुड़े हुए है | और यह टेक्नोलॉजी हमारे लिए जितनी अच्छी है, उतनी हानिकारक भी है |

अगर हम सावधानी नहीं रखते है, तो हमारे संग भी Cyber Crime हो सकता है | कई लोगो को Cyber Crime के बारें में नहीं पता होता है, कि आखिर Cyber Crime क्या होता है | आज में उन सभी लोगो को बताऊंगा, कि Cyber Crime क्या होता है, यह कितने प्रकार का होता है | Cyber Crime से कैसे बचाव करें | और Cyber Crime से जुडी हुई सभी जानकारी में आज आपको दूंगा | जिससे आप सावधान रहे, और आपके साथ Cyber Crime न हो |

अगर आप भी जानना चाहते हो, कि Cyber Crime क्या होता है | और Cyber Crime से कैसे बचे | तो हमारे पूरी पोस्ट को अवश्य पढ़े | इस पोस्ट की सहायता से आप Cyber Crime के बारें में सुब कुछ जान जाओंगे | और Cyber Crime से बच भी पाओगे | आइये अब हम जानते है, कि आखिर Cyber Crime क्या होता है | 

Cyber Crime क्या होता है?

Cyber Crime क्या होता है?
heystudies.com

आजकल आपने कही न कही एक शब्द अवश्य सुना होंगा, Cyber Crime का | लेकिन कई लोगो को नहीं पता है, कि आखिर Cyber Crime होता क्या है | आज में उन सभी लोगो को Cyber Crime के बारे में बता रहा हूँ | आजकल का युग आधुनिक युग है, यानि कि यह युग टेक्नोलॉजी का युग है | जैसे-जैसे देश विकास कर रहा है, वैसे-वैसे टेक्नोलॉजी भी विकास कर रही है |

आजकल सभी व्यक्ति किसी न किसी तरीके से टेक्नोलॉजी से जुड़े हुए है | जैसे मोबाइल, कंप्यूटर, इंटरनेट आदि | इन टेक्नोलॉजी के आने से लोगों को जितना फायदा हुआ, उतना नुकसान भी | क्युकी इनकी सहायता से कई हैकर्स आपके डाटा और आपकी मुख्य जानकारी को चुराकर उसका गलत फायदा उठा लेते है | अब सभी बैंक अकाउंट आपके मोबाइल नंबर से जुड़े रहते है, जिस वजह से हैकर्स आपके पर्सनल डाटा जैसे – डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड आदि की पिन आदि जानकारी जानके वह आपके बैंक अकाउंट को खाली कर देते है |

जब भी कोई ऐसी धोखाधड़ी हो, जो इंटरनेट, मोबाइल, और कंप्यूटर से हुई हो | उन सभी धोखाधड़ी/अपराधों को Cyber Crime की श्रेणी में रखा जाता है | ये हैकर्स आपके मोबाइल से आपके कई फोटो आदि मुख्य डाटा को भी चुरा लेते है | लेकिन Cyber Crime से बचाव संभव है, अगर आप सावधानी रखते हो तो | Cyber Crime कई प्रकार के होते है | आइये में आपको Cyber Crime के कुछ प्रकारों के बारें में बताता हूँ | जिससे आपको पता चले, कि आखिर Cyber Crime होता क्या है | 

Note :- अगर आप जाना चाहते है |

Cyber Crime कितने प्रकार के होते है | –

जब भी आपके संग कोई धोखाधड़ी होती है, और आपका मत्वपूर्ण डाटा चोरी हो जाता है | और आपके बैंक अकाउंट से पैसे निकाल लिए जाते है | अगर ऐसा कोई भी अपराध किसी के साथ भी होता है, और वो अपराध मोबाइल, इंटरनेट, कंप्यूटर, टेक्नोलॉजी से जुड़ा हुआ होता है | तो ऐसे अपराधों को Cyber Crime यानि कि साइबर अपराध कहते है | यह Cyber Crime कई प्रकार के होते है, आइये में आपको कुछ Cyber Crime के प्रकार के बारें में बताता हूँ | 

Hacking ( हैकिंग ) –

Hacking एक बहुत ही बड़ा साइबर क्राइम होता है, हैकिंग करने वाले को हैकर कहते है | जब आप किसी अनजाने लिंक या किसी अनजाने एप्लीकेशन को डाउनलोड करते हो | तो वहां आप बिना कुछ सोचे-समझे सभी प्रकार की एप्लीकेशन को सभी प्रकार की परमिशन दे देते हो, जैसे Photo Media, Voice Recording, Location, Camera आदि सभी परमिशन दे देते हो |

जिससे हैकर को आपके डिवाइस में घुसने की जगह मिल जाती है | और वो आपके डिवाइस को हैक कर लेता है, हैकर आपके कंप्यूटर या मोबाइल में रहकर आपके सारा मुख्य डाटा को चुरा लेता है, और आपको पता भी नहीं चलता है | ऐसी परमिशन की वजह से वो कभी भी आपकी कोई पर्सनल बातों को रिकॉर्ड कर सकते है, कभी भी आपके पर्सनल फोटोज का गलत इस्तेमाल करके वो आपको ब्लैकमेल कर सकते है |

वह आपके कंप्यूटर मोबाइल में घुसकर कई जानकारियों को बदल देत है, आपके डेबिट कार्ड और क्रेडिट कार्ड की जानकारी चोरी कर लेते है | जिससे वो आपके बैंक अकाउंट को भी खाली कर लेते है | और सबसे खास बात तो यह है, कि जिस व्यक्ति का कंप्यूटर या मोबाइल हैक होता है, उसे पता भी नहीं चलता है | और हैकर उसके डाटा को आसानी से गलत इस्तेमाल कर लेता है | 

Identity Theft ( पहचान चुराना ) –

Identity Theft (पहचान चुराना/चोरी की पहचान) यह भी एक Cyber Crime होता है | जब कोई व्यक्ति किसी व्यक्ति की पहचान चुराता है, यानि कि कई लोग कई लोगो की Social Media पर उन्ही के नाम से Fake ID बना लेते है | और उनकी पहचान का गलत फायदा उठाते है | जैसे वो किसी व्यक्ति की Fake ID बनाकर उस व्यक्ति के किसी जानकार से सोशल मीडिया अकाउंट की सहायता से कुछ पैसे मांगता है, या कोई व्यक्ति किसी व्यक्ति की असली सोशल मीडिया ID के पासवर्ड को कैसे भी करके जानके भी उससे पैसे मांगते है, किसी न किसी बहाने से जैसे- उसका कोई परिचित हॉस्पिटल में है, या कोई और बहाने से | 

Virus Software ( वायरस सॉफ्टवेयर ) –

वायरस सॉफ्टवेयर की सहायता से भी Cyber Crime होता है | आपने देखा होंगा, कि कई एप्लीकेशन और लिंक को इस प्रकार डिज़ाइन किया जाता है | कि वो सामने वाले व्यक्ति को आकर्षित सा लगता है | और वो उस एप्लीकेशन और लिंक की तरफ आकर्षित होता है | और उस लिंक पर क्लिक कर देते है, या उस अनजाने एप्लीकेशन को डाउनलोड कर लेते है | जिससे हैकर को आपके डिवाइस में घुसने की जगह मिल जाती है | और वो आपके डिवाइस को हैक कर लेता है, हैकर आपके कंप्यूटर या मोबाइल में रहकर आपके सारे मुख्य डाटा को चुरा लेता है, और आपको पता भी नहीं चलता है |

Cyber Stalking ( साइबर स्टाकिंग ) –

यह एक बहुत ही बड़ा Cyber Crime होता है, Stalking का अर्थ होता है | कि कोई आपका पीछा कर रहा है, कि आप क्या-क्या करते हो, कहाँ-कहाँ जाते हो | आप पर नजर रखता है और आपको Blackmail करता है | इसे Stalking कहते है, लेकिन अगर ये Stalking अगर आपसे सोशल मीडिया द्वारा, मैसेज द्वारा, Email id, द्वारा होता है | इसे Cyber Stalking कहते है | Cyber Stalking एक बहुत ही बड़ा Cyber Crime होता है | 

Cyber Crime से बचाव कैसे करें | –

Cyber Crime बहुत ही बड़ा क्राइम है, यह क्राइम आपको जरा सी लापरवाही से आपके साथ भी हो सकता है | लेकिन इस क्राइम से बचाव संभव है | 

  • आप कभी भी नेटबैंकिंग का उपयोग किसी साइबर कैफ़े में न करें | 
  • आप कभी भी नेटबैंकिंग का उपयोग ऐसी जगह पर न करों, जहाँ भीड़-भाड़ ज्यादा हो, वहां आपकी जानकारी चोरी हो सकती है | वरना आप ऐसी जगह आप बहुत ही सावधानी से नेटबैंकिंग का उपयोग कीजिये | 
  • आप किसी भीं अनजाने Spam Email को न ही ओपन करें, न ही उससे जुडी किसी भी फाइल को डाउनलोड करें | 
  • किसी दूसरे व्यक्ति के मोबाइल से ऑनलाइन ट्रांसक्शन करने से बचे, और करें तो बिलकुल सावधानी के साथ करें | 
  • अपनी Email ID अगर आप किसी व्यक्ति के मोबाइल या कंप्यूटर में ओपन करते हो, तो उसे सही प्रकार से Log Out करना न भूले | 
  • अपने ऑनलाइन नेटबैंकिंग, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड या किसी भी OTP को किसी भी अनजान व्यक्ति के साथ शेयर न करें | 
  • अपनी ईमेल आईडी, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, Paytm, Social Media अकाउंट के पासवर्ड को किसी भी ऐसी किताब में न लिखे, जो आसानी से किसी भी व्यक्ति के हाथ लग सकती है | 
  • किसी भी अनजान लिंक पर क्लिक न करें, न ही किसी अनजान Email को ओपन करें, न ही किसी अनजान एप्लीकेशन को डाउनलोड करें, न ही उसे कोई परमिशन दे | 
  • किसी भी व्यक्ति के मोबाइल में अपने सोशल मीडिया अकाउंट को खोलने से बचे | 
  • अपने ईमेल आईडी, डेबिट कार्ड, क्रेडिट कार्ड, Paytm, Social Media अकाउंट के पासवर्ड को बहुत ही मजबूत बनाये, और पासवर्ड में अपनी Date of Birth, या Mobile No. का उपयोग न करें | 

Cyber Crime होने पर कैसे Online Complaint करें | –

Cyber Crime होने पर कैसे Online Complaint करें | 
heystudies.com

अगर आप भी या, आपका कोई परिचित व्यक्ति Cyber Crime का शिकार हुआ है, तो आप इसके लिए Online Complaint कर सकते हो | या अगर आपके घर के आस-पास कही Cyber Cell है, तो वहां भी आप शिकयत दर्ज कर सकते हो | आपको जैसे सुविधा हो, आप वैसे शिकयत दर्ज कर सकते हो |

लेकिन आज में आपको Online घर बैठे Cyber Crime की शिकयत कैसे दर्ज करें, के बारें में बताऊंगा | जिससे आपको Cyber Crime Cell Office ढूढ़ने की जरूरत नहीं है | Cyber Crime होने पर Online Complaint (ऑनलाइन शिकयत) दर्ज करने के लिए आपको कुछ Step Follow करने होंगे | 

  • सबसे पहले आपको Cyber Crime की शिकयत दर्ज कराने के लिए राष्टीय साइबर अपराध रिपोर्टिंग पोर्टल पर जाना होगा | 
  •  अब आपके सामने इस वेबसाइट का होम पेज खुल जायेंगा, जहाँ आपको Report Women/Child Related Crime का ऑप्शन मिलेंगा | आपको उस पर क्लिक करना है, अब आपके सामने एक और ऑप्शन आयेंगा, Report Anonymously का आपको उस पर क्लिक करें | 
  • अब आपके सामने एक नया पेज खुल जायेंगा, वहाँ आपको File a Complaint पर क्लिक करें |
  • अब आपके सामने एक Form खुल जायेंगा, आपको अपना फॉर्म को बिलकुल सही से भरना है | उसमे आपको अपनी जानकारी भरनी होंगी, आपको वहां आपके साथ होने वाले Cyber Crime के बारें में बताना होंगा | 
  • अब आपको Next पर क्लिक करके अपने Form को सबमिट करना होंगा, अब आपकी शिकायत दर्ज हो गयी है | शिकायत दर्ज होने के बाद आपको एक Complaint No. मिलेंगा | 
  • आप Complaint No. की सहायता से अपनी शिकायत का Status भी चेक कर सकते हो, कि आपकी शिकायत पर क्या कारवाई की जा रही है | 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top