BAMS Course क्या है, BAMS कैसे करे

BAMS Course क्या है | इसकी योग्यता, फीस, सिलेबस, तैयारी आदि इस कोर्स की पूरी जानकारी | 

हेलो दोस्तों आप का स्वागत है, आज हम बात करेंगे | BAMS Course क्या है, BAMS कैसे करे, इसकी योग्यता क्या है, इसकी फीस कितनी है, इसका सिलेबस क्या है , इसकी तैयारी कैसे करें आदि इस कोर्स की पूरी जानकारी | BAMS Course जिसे बैचलर ऑफ़ आयुर्वेद मेडिसन एंड सर्जरी कहते है | यह एक बहुत ही अच्छी डॉक्टरी की डिग्री है | इस डॉक्टरी की डिग्री को आप कक्षा 12 वी के बाद कर सकते हो | इस डिग्री को पूरी करने की अवधि साढ़े 5 वर्ष है, यानि की इस कोर्स को पूरा करने की अवधि 5 वर्ष 6 महीने होती है |

इसी अवधि में ही आपकी इंटर्नशिप भी हो जाती है | अगर आपकी इच्छा है , कि आप एक बड़े आदमी बनो | तो आप अपना यह सपना आयुर्वेद का डॉक्टर बनकर पूरा कर सकते हो | इस डिग्री को करके आपके पास अपने करियर को बनाने का खूब अच्छा और सुनहरा अवसर होता है | जिससे आप अपने अच्छे करियर का निर्माण कर सकते है | आयुर्वेद की दवाइया बहुत ही अच्छी होती है, क्युकी इससे आपको कोई भी नुकसान नहीं होता है | और इन दवाइयों की मदद से आप स्वस्थ तो हो ही जाते हो, साथ में आपकी बीमारी भी बिलकुल ख़तम हो जाती है |

इस डिग्री कोर्स में आपको शरीरक्रिया विज्ञानं, चिकित्सा के सिद्धांत, शरीररचना विज्ञानं, फार्माकोलॉजी, फॉरेंसिक चिकित्सा, (कान, नाक, गले, आँख की चिकित्सा), रोगो से बचाव एवं सामाजिक चिकित्स आदि चिकित्सा सबंधी सभी बाते आप को इस कोर्स में पढ़ाई और बताई जाती है | 

BAMS Course क्या है, BAMS कैसे करे?

BAMS डिग्री जिसका पूरा नाम(Bachelor Of Ayurved Medicine & Surgery) है | यह एक अंडरग्रेजुएट डिग्री है | इस डिग्री को पूरा करने में आपको साढ़े 5 वर्ष का समय लगेगा | यानि कि 5 वर्ष 6 महीने का समय लगता है, आपको इस कोर्स को पूरा करने में | इस कोर्स को सेंट्रल काउंसिल ऑफ़ इंडियन मेडिसन द्वारा मान्यत प्राप्त है | आजकल आयुर्वेद के डॉक्टर की ज्यादा मांग है, क्युकी आयुर्वेद का इलाज बहुत ही अच्छा और प्राकृतिक होता है | आयुर्वेद की सभी दवाएं बहुत ही अच्छी और प्राकृर्तिक होती है |

इस दवाई को खाने से आप स्वस्थ भी हो जाते हो, और आपकी बीमारी भी बिलकुल जड़ से ख़तम हो जाती है | और आयुर्वेद दवाई को खाने से कोई नुकसान भी नहीं होता है |  यानि कि इस दवाई के कोई साइड इफ़ेक्ट नहीं है | इसलिए आजकल आयुर्वेद के क्षेत्र में करियर बहुत ही अच्छा है | अब ज्यादातर सभी अस्पतालों में कम से कम 1 आयुर्वेद का डॉक्टर होना आवश्यक है | और लोग अब अपने अच्छे इलाज के लिए अब आयुर्वेद की तरफ ज्यादा आकर्षित हो रहे है | अब आप इन्ही बातों को देखकर सोच सकते है, कि इस क्षेत्र में करियर की सम्भावना कितनी अच्छी है |

इसलिए अगर आप अपने अच्छे करियर का निर्माण करना चाहते है | और अपने और अपने माता पिता का नाम रोशन करना चाहते है, तो आप ये आयुर्वेद का डिग्री कोर्स कर सकते हो | क्युकी आयुर्वेद डॉक्टर की समाज मे खूब सामान होता है | इसमें आपको आयुर्वेदिक दवाई यानि की जड़ी-बूटी द्वारा बनाई गयी प्राकृर्तिक दवाई के साथ-साथ आपको आधुनिक दवाई की भी पूरी जानकारी दी जाती है | यह डिग्री कोर्स को आप प्राइवेट और सरकारी दोनों में से किसी भी संसथान में करवा सकते है |

Note :- अगर आप जाना चाहते है |

BAMS Course कैसे करे | –

BAMS Course करने के लिए आपको किसी भी मान्यता प्राप्त बोर्ड से 12 वी कक्षा को पास करना आवश्यक है, वो भी PCB विषय से | इस कक्षा को आपको कम से कम 50%-60%  अंक होने आवश्यक है | इस कोर्स को करने के लिए आपकी आयु कम से कम 17 वर्ष होनी आवश्यक है | और NEET परीक्षा को देने के लिए आपकी अधिकतम आयु 20 वर्ष होनी आवश्यक है | इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम को क्लियर करना होंगा |

तभी आप इस कोर्स में एडमिशन ले सकते है | इस कोर्स में आपको आयुर्वेदिक दवाई यानि की जड़ी-बूटी द्वारा बनाई गयी प्राकृर्तिक दवाई के साथ-साथ आपको आधुनिक दवाई की भी पूरी जानकारी दी जाती है | यह डिग्री कोर्स को आप प्राइवेट और सरकारी दोनों में से किसी भी संसथान से कर सकते है | सरकारी और प्राइवेट दोनों संसथान इस कोर्स को करने की सुविधा देते है | इसलिए आप अपनी इच्छानुसार किसी भी संसथान से इस कोर्स को करके आप अपने अच्छे और उज्जवल करियर का निर्माण कर सकते है | 

BAMS Course प्रवेश प्रक्रिया | –

BAMS Course चिकित्सा के क्षेत्र का बहुत ही अच्छा कोर्स है, इसलिए इस कोर्स में एडमिशन के लिए एंट्रेंस एग्जाम आयोजित किया जाता है | एंट्रेंस एग्जाम के लिए आपको खूब मेहनत करनी पड़ती है, क्युकी एंट्रेंस  एग्जाम क्लियर करने के साथ-साथ आपको खूब अच्छी रैंक भी बनानी होंगी | जितनी अच्छी आपकी रैंक होंगी, उतने अच्छे गवर्नमेंट कॉलेज में आपको एडमिशन मिल जायेंगा | और अगर आपकी रैंक अच्छी नहीं आती, तो आपको प्राइवेट कॉलेज में ही एडमिशन मिलेंगा |

BAMS Course के एंट्रेंस एग्जाम में आपसे कक्षा 12 वी के पाठ्यक्रम से सवाल पूछे जाते है | इस कोर्स में एडमिशन के लिए आपको NEET परीक्षा क्लियर करनी होंगी, वो भी अच्छी रैंक के संग | और कुछ राज्यों में एंट्रेंस एग्जाम राज्यों द्वारा ही आयोजित किये जाते है | आइये अब हम कुछ एंट्रेंस परीक्षा के बारे में जानते है | 

  1. National Institute of Ayurved Entrance Exam 
  2. Kerala State Entrance Exam
  3. Aayush Entrance Exam
  4. Uttarakhand P.G Entrance Exam
  5. Common Entrance Test (CET), Karnataka
  6. Odisha Joint Entrance Exam ( OJEE) 
  7. Goa Common Entrance Test
  8. Bharati Vidyapeeth Common Entrance Test
  9. Indraprastha University Common Entrance Test

BAMS कोर्स की फीस कितनी है | –

BAMS Course को आप सरकारी संस्थान से भी कर सकते हो, और प्राइवेट संस्थान से भी कर सकते हो | सरकारी संस्थान में आपको फीस कम देनी होती है, जबकि प्राइवेट संस्थान में फीस अधिक होती है | बाकि आपके कॉलेज की फीस आपके कॉलेज द्वारा दी जाने वाली सुविधा पर निर्भर करती है | जो कॉलेज जितनी ज्यादा सुविधा देंगे, वो कॉलेज उतनी ज्यादा फीस लेंगे |

इसलिए सभी कॉलेज में फीस में थोड़ा बहुत अंतर होता है | आप अगर किसी प्राइवेट कॉलेज से यह कोर्स करते है, तो आपको 20-30 हज़ार से लेकर 2-3 लाख तक फीस प्रतिवर्ष देनी होती है तथा उससे फीस अधिक भी हो सकती है | और सरकारी संस्थान में आपको फीस 15-20 हज़ार से 50-60 हज़ार तक फीस प्रतिवर्ष चुकानी पड़ती है | और इसमें भी फीस और भी अधिक हो सकती है | 

BAMS Course का सिलेबस क्या है | –

BAMS Course अच्छे करियर के निर्माण के लिए बहुत ही अच्छा कोर्स है, इस कोर्स को करने के लिए आपको खूब अच्छे से मेहनत की आवश्यकता होती है, तभी आप इस कोर्स को कर सकते हो | यह आयुर्वेद का कोर्स बहुत ही बढ़िया कोर्स है, क्युकी इस कोर्स को करके आप अपने करियर को एक अच्छी और उज्जवल राह प्रदान कर सकते हो |

इस कोर्स में आपको आयुर्वेद की दवाई के ज्ञान के साथ-साथ आधुनिक दवाई का भी ज्ञान दिया जाता है | सेंट्रल काउंसिल ऑफ़ इंडियन मेडिसन ने इस को 4 हिस्सों में बाट दिया गया है | वो सभी 4 प्रोफेशनल कोर्स का सिलेबस कुछ इस प्रकार है | 

1. Professional Course Syllabus – 

  • शरीर रचना 
  • संस्कृत 
  • शरीर क्रिया
  • पदार्थ विज्ञानं और आयुर्वेद इतिहास 
  • मौलिक सिद्धांत एवं अष्टांग ह्रदय 

2. Professional Course Syllabus – 

  • द्रव्यगुण विज्ञानं 
  • रसशास्त्र 
  • रोग निदान 
  • चरक सहित 

3. Professional Course Syllabus – 

  • अंगदतंत्र 
  • प्रसूति तंत्र एवं स्त्री रोग 
  • चरक सहिता (उतरार्धा)
  • कौमारभृत्य परिचय 
  • स्वस्थवृति 

4. Professional Course Syllabus – 

  • कायचिकित्सा 
  • शल्य तंत्र 
  • शालाक्य तंत्र 
  • पंचकर्म 
  • अनुसंधान पद्धति और चकित्सा सांखियकी 

BAMS Course को करने के फायदे | –

BAMS Course अच्छे करियर के निर्माण के लिए बहुत ही अच्छा कोर्स है, इस कोर्स को करने के आपको बहुत सारे फायदे है | आइये में आपको इस कोर्स को करने के कुछ फायदे बताता हूँ | 

  1. आप इस कोर्स को करके एक अच्छे आयुर्वेद के डॉक्टर बन जाते हो, जिसके बाद आपको खूब अच्छी सैलरी भी आसानी से मिल जाती है | आपको इस कोर्स को करने के बाद कम से कम 50-60 हज़ार से अधिक सैलरी आप इससे कमा सकते हो | 
  2. आप इस कोर्स को जब कर लेते है, तो आपको आयुर्वेद का अच्छा-खासा ज्ञान हो जाता है | जिसकी वजह से आप अपना कोई क्लिनिक या मेडिकल स्टोर भी खोल सकते हो | 
  3. यह क्षेत्र रिसर्च का क्षेत्र है, इसलिए आप इस कोर्स को करके रिसर्च भी कर सकते हो | 
  4. आप जब आयुर्वेद डॉक्टर बन जाते हो, तो आपको और आपके माता-पिता को समाज में खूब सम्मान मिलता है | 
  5. इस कोर्स को करके आप शुरुवात में किसी क्लिनिक में जूनियर डॉक्टर बनके अनुभवी डॉक्टर बन सकते हो | 
  6. इस कोर्स को करके आप किसी हॉस्पिटल में अच्छी-खासी जॉब पा सकते है | 

आदि इस कोर्स को करने के आपको खूब फायदे होते है | 

BAMS Course के बाद क्या करे | –

BAMS Course को करने के बाद आपके पास करियर के बहुत सारे ऑप्शन होते है | जिनमे से कोई भी ऑप्शन को चुनकर आप अपने अच्छे और उज्जवल करियर का निर्माण कर सकते हो | 

  • Lecturer
  • Scientist
  • Ayurvedic
  • Pharmacist
  • Medical sales representative
  • Junior clinical trial
  • Sales executive
  • Coordinator
  • Product manager

BAMS Course के बाद जॉब के क्षेत्र –

  • Hospital
  • Education
  • Nursing home
  • Life science sector 
  • Government Hospital
  • Private Hospital
  • Colleges
  • Spa Resort
  • Pharmacy sector
  • Clinical trials
  • Healthcare IT
  • Ayurvedic Resort
  • Research institute
  • Panchakarma
  • Ashram
  • Insurance sector

BAMS Course के बाद सैलरी कितनी मिलती है | –

BAMS Course में करियर की सम्भावना बहुत ज्यादा होती है, साथ ही इस कोर्स में आपको सैलरी भी बहुत ही अच्छी मिल जाती है | इस कोर्स में आपको शुरुवात में ही सैलरी 50-60 हज़ार मिलती है | इसी प्रकार जैसे- जैसे आपका अनुभव बढ़ेगा | और आप अनुभवी डॉक्टर बन जाते हो , तो आपकी सैलरी बढ़कर 1-2 लाख रुपए प्रतिमाह तथा उससे भी अधिक हो जाती है |

इसलिए अगर आपको अपने अच्छे करियर का निर्माण करना है, तो आपको पूरी मेहनत से और लगन से इस कोर्स को करना होगा | और इस कोर्स को करने के बाद जब आप अनुभवी डॉक्टर बन जाते हो, तब आपकी सैलरी कम से कम 2-3 लाख प्रतिमाह भी हो सकती है | 

BAMS Course करने के लिए सबसे अच्छे कॉलेज |-

  • आयुर्विज्ञान संस्थान 
  • राष्टीय आयुर्वेद संस्थान 
  • पतंजलि आयुर्वेद कॉलेज, हरिद्वार 
  • उत्तराखंड आयुर्वेद विश्वविद्यालय हर्रावाला 
  • डॉ डीवाई पाटिल विश्विद्यालय, नई मुंबई 
  • सुमितभाई शाह आयुर्वेद महाविद्यालय मालवाड़ी, पुणे 
  • विदर्भ आयुर्वेद महाविद्यालय, अमरावती 
  • सीएच ब्रह्म प्रकाश आयुर्वेद चरक संस्थान, नई दिल्ली 
  • स्वास्थ्य विज्ञानं के महाराष्ट विश्विद्यालय 
  • राजीव गाँधी स्वास्थ्य विज्ञानं विश्वविद्यालय 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top