CDPO kya hai (सीडीपीओ क्या है)

CDPO क्या है, CDPO कैसे बने पूरी जानकारी वो भी हिंदी में| –

हेलो दोस्तों आप का स्वागत है, आज हम बात करेंगे | CDPO क्या है, CDPO कैसे बने पूरी जानकारी वो भी हिंदी में | अगर आप सरकारी क्षेत्र (Government Field) में अपना करियर बनाना चाहते हो, तो आप CDPO बन सकते हो | आजकल के कई युवाओं का सपना सरकारी क्षेत्र (Government Field) में अपना करियर बनाने का सपना होता है, ऐसे युवा जो सरकारी क्षेत्र (Government Field) में जाना चाहते है वो CDPO बनकर अपने सरकारी क्षेत्र (Government Field) में जाने के सपने को सच कर सकते है |

यह जॉब एक सरकारी क्षेत्र की जॉब (Government Field Job) है, और बहुत ही अच्छी जॉब (Job) है | इस जॉब में आपको खूब अच्छा वेतन (Salary) भी प्राप्त होता है, लेकिन इस जॉब (Job) को पाना इतना आसान नहीं है | इस जॉब को पाने के लिए आपको खूब कड़ी मेहनत करनी होंगी, इस जॉब (Job) के लिए एक योग्य  और जिम्मेदार (Qualified and Responsible) उमीदवार की आवश्यकता है | यह पद (Post) बहुत ही जिम्मेदारी का पद होता है, इस पद पर उमीदवार को राज्य सरकार (State Government) द्वारा नियुक्त किया जाता है |

इस पद (Post) के उमीदवार को बच्चो के भरण-पोषण और गर्भवती महिलाओं और बच्चो के स्वास्थ्य (Health) की पूरी जानकारी रखना होता है | इस पद (Post) के उमीदवार का कार्य बच्चो और गर्भवती महिलओं के मानसिक और शारारिक स्वास्थ्य की देखभाल करना होता है | आजकल के बच्चे हमारे देश के भविष्य (Future) है, देश के भविष्य को अच्छा बनाने के लिए राज्य सरकार (State Government) की तरफ से इस अधिकारी (Officer) को नियुक्त किया जाता है |

इसका कार्य है, कि राज्य के सभी नवजात शिशु (New Born Baby ) और गर्भवती महिलाओं (Pregnant Lady) के भरण-पोषण और उनका शारारिक और मानसिक रूप से स्वास्थ्य (Health) की देखभाल की जाएँ, जिससे देश में कोई भी बच्चा कुपोषित (Malnourished) न हो | 

Note :- अगर आप जाना चाहते है |

CDPO kya hai (सीडीपीओ क्या है)? –

CDPO kya hai (सीडीपीओ क्या है)?
heystudies.com

CDPO का पद सरकारी (Govement Post) होता है, इस पद (Post) पर अधिकारी (Officer) को राज्य सरकार (State Government) द्वारा नियुक्त किया जाता है | CDPO का कार्य कम से कम 6 वर्ष तक के बच्चे और गर्भवती महिलाओं (Pregnant Lady) के भरण-पोषण और उसके शारारिक और मानसिक स्वास्थ्य की जांच करना और देखभाल करना है |

जिससे कोई भी बच्चा कुपोषित (Malnourished) न हो | यह अधिकारी (Officer) नवजात शिशु और गर्भवती महिलाओं (New Born Baby & Pregnant Lady) के शारारिक और मानसिक तौर पर स्वास्थ्य (Health) की जांच और देखभाल की जाती है, जिससे की कोई भी बच्चा कुपोषित (Malnourished) न हो और शिशु मृत्यु दर (Infant Mortality Rate) में कमी की जा संके | 

CDPO अधिकारी की देखरेख में ही आंगनबाड़ी चलाई जाती है और नवजात शिशु और गर्भवती महिलाओं (New Born Baby & Pregnant Lady) के भरण पोषण और स्वास्थ्य (Health) के लिए जितनी भी योजनाएं (Schemes) चलाई जाती है, वो सभी योजनाएं CDPO अधिकारी की देखरेख में चलाई जाती है | 

CDPO की Full Form क्या है? –

CDPO का पद (Post) एक बहुत ही अच्छा और सरकारी पद (Goverment) होता है, इस पद (Post) को पाने के लिए आपको खूब मेहनत करनी होंगी | इस पद के उमीदवार अधिकारी (Officer) होते है, इस अधिकारी को राज्य सरकार (State Government) द्वारा नियुक्त किया जाता है |

इस अधिकारी (Officer) का कार्य राज्य की गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशु (Pregnant Lady & New Born Baby) के शारारिक और मानसिक तौर पर स्वास्थ्य (Health) की जांच करना और उनको स्वस्थ करना और गर्भवती महिलाओं और नवजात शिशु (Pregnant Lady & New Born Baby) के भरण-पोषण सही से किये जाए इसकी जानकारी रखना होता है |

जिससे कोई भी बच्चा कुपोषित (Malnourished) न हो | कई लोगों का सपना होता है, कि वो सरकारी क्षेत्र (Goverment Field) में अपने अच्छे करियरका निर्माण करें | तो ऐसे अधिकारी CDPO अधिकारी बनकर अपने अच्छे करियर का निर्माण कर सकते है और अपने सपने को पूरा कर सकते है | कई लोगो को CDPO की Full Form नहीं पता होती है, अगर आप भी CDPO बनना चाहते हो, तो आपको इस पद की पूरी जानकारी होनी चाहिए | में आपको अभी CDPO की Full Form भी बतादूँगा, जिससे आपको इस पद (Post) की खूब अच्छे से जानकारी हो जाएँ | 

CDPO की Full-Form– Child Development Project Officer (बाल विकास परियोजना अधिकारी) होता है | इस अधिकारी (Officer) के अंतर्गत ही आगनबाड़ी और आगनबाड़ी की सभी योजनाएं आती है | इस अधिकारी का कार्य होता है, सभी बच्चे स्वस्थ हो, और उनके राज्य (State) में कोई भी बच्चा कुपोषित (Malnourished) न हो | यह सभी नवजात शिशु और गर्भवती महिलाओं (New Born Baby & Pregnant Lady) के स्वास्थ्य की रिपोर्ट (Health Report) तैयार करना भी इनका कार्य होता है | 

CDPO बनने के लिए क्या-क्या योग्यताएं है? –

CDPO का पद (Post) एक अधिकारीका पद (Officer Post) होता है, और साथ में यह एक सरकारी पद (Goverment Post) भी है | इस पद (Post) को पाना इतना आसान नहीं होता है, इस पद (Post) को पाने के लिए आपको खूब मेहनत करनी होंगी | इस पद (Post) पर अधिकारी (Officer) राज्य सरकार (State Goverment) द्वारा नियुक्त किया जाता है |

यह पद (Post) बहुत ही जिम्मेदारी का पद होता है, इस पद की कुछ योग्यताएं (Qualification) होती है, जो उमीदवार में होनी आवश्यक है | CDPO बनने के लिए | आइये अब हम इस इस आधिकारिक पोस्ट CDPO के बारे में जानते है | 

  • बाल विकास परियोजना अधिकारी CDPO बनने के लिए आपको किसी भी विषय (Subject) से किसी भी मान्यता प्राप्त विश्विद्यालय या यूनिवर्सिटी से स्नातक (Graduation) की डिग्री होनी आवश्यक है | 
  • इस पद को पाने के लिए आपकी न्यूनतम आयु 21 वर्ष होनी आवश्यक है और अधिकतम आयु 37 वर्ष निर्धारित है | 
  • इस आयु सीमा में कुछ विशेष वर्ग को विशेष छूट प्रदान की जाती है | 
  • अगर आप OBC वर्ग से हो, तो इस आयु सीमा में आपको 3 वर्ष की छूट प्रदान की जायेंगी | 
  • अगर आप SC/ST वर्ग के उमीदवार हो, तो इस आयु सीमा में आपको 5 वर्ष की छूट प्रदान की जायेंगी | 

बाल विकास परियोजना अधिकारी (CDPO) कैसे बने? –

अब आप इस पद के बारे में जान चूक होंगे, अगर आप भी इस पद को पाना चाहते हो | तो जुड़े रहिये, हमारी इस पोस्ट के साथ | में आपको बाल विकास परियोजना अधिकारी (Child Development Project Officer, CDPO) के बारे में पूरी जानकारी दूँगा | जिससे आपको CDPO के पद को पाने में आसानी होंगी | 

CDPO के पद (Post) को पाने के लिए आपको खूब मेहनत करनी होंगी | इस पद (Post) को पाने के लिए आपको किसी भी विषय (Subject) से किसी भी मान्यता प्राप्त विश्विद्यालय या यूनिवर्सिटी से स्नातक (Graduation) की डिग्री होनी आवश्यक है | अगर आपने अपनी Graduation पूरी कर ली है, तो आपको राज्य सरकार द्वारा आयोजित PCS परीक्षा में भाग लेना होंगा |

क्युकी इस पद पर राज्य सरकार (State Goverment) द्वारा नियुक्ति की जाती है, इसलिए इस पद (Post) पर उमीदवार की भर्ती PCS परीक्षा के माध्यम से की जाती है | अगर आप भी CDPO– Child Development Project Officer (बाल विकास परियोजना अधिकारी) बनना चाहते हो, तो आपको PCS परीक्षा की तैयारी करनी होंगी | 

CDPO बनने के लिए PCS परीक्षा का Exam Pattern क्या है? –

CDPO बनने के लिए PCS परीक्षा का Exam Pattern क्या है?
heystudies.com

CDPO बनने के लिए आपको PCS की परीक्षा को कम्पलीट करना होंगा, PCS की परीक्षा को कम्पलीट करके ही आप CDPO बन सकते हो | CDPO में भर्ती राज्य सरकार (State Goverment) द्वारा की जाती है, और राज्य सरकार द्वारा ही PCS परीक्षा को आयोजित किया जाता है | अगर आप भी CDPO बनना चाहते हो, तो आपको राज्य सरकार (State Goverment) द्वारा आयोजित PCS – Provincial Civil Service (प्रांतीय सिविल सेवा) परीक्षा को क्लियर करना होता है |

आपकी यह परीक्षा 3 चरणों में पूरी होती है, हम इन तीनो चरणों की परीक्षा के बारें में पूरी जानकारी हासिल करेंगे | इस परीक्षा के चरण इस प्रकार है | 

1. प्रारंभिक परीक्षा (Preliminary Exam)-

यह परीक्षा CDPO बनने के लिए पहला चरण होता है, इस परीक्षा को क्लियर करना आवश्यक होता है | जो उमीदवार इस परीक्षा को क्लियर कर लेते है, वो उमीदवार ही मुख्य परीक्षा (Main Exam) को देने के पात्र होते है | अगर आप भी CDPO बनना चाहते हो, तो अभी से PCS परीक्षा की तैयारी पूरी मेहनत के साथ करें | तभी आप इस PCS की परीक्षा को क्लियर करके CDPO बन सकते हो,

इस परीक्षा में आपका एक पेपर होता है, वो भी लिखित होता है | इस परीक्षा में आपसे 150 प्रश्न पूछे जाते है, सभी प्रश्न सामान्य ज्ञान (General Knowledge) विषय के है | इस परीक्षा को पूरा करने के लिए आपको 2 घंटे का समय दिया जाता है | जो उमीदववार इस परीक्षा को क्लियर कर लेते है, वो उमीदवार ही मुख्य परीक्षा (Main Exam) के पात्र कहलाते है |  

2. मुख्य परीक्षा (Main Exam)-

इस परीक्षा में सम्मलित होने के लिए आपको सबसे पहले प्रारंभिक परीक्षा 

(Preliminary Exam) को क्लियर करना होंगा, जो उमीदवार प्रारंभिक परीक्षा 

(Preliminary Exam) को क्लियर कर लेते है, सिर्फ वो उमीदवार ही मुख्य परीक्षा (Main Exam) देने के पात्र होते है | इस परीक्षा में आपका एक सामान्य हिंदी का प्रश्न पत्र 100 अंक का होता है | और 2 प्रश्न पत्र सामान्य अध्यन के होते है 300-300 अंक के | इसमें आपका एक पेपर वैकल्पिक विषय (Optional Subject) का होता है, यह परीक्षा आपकी 300 अंक की होती है | मुख्य परीक्षा (Main Exam) में आपके सभी प्रश्न पत्र 3 घंटे के होते है | जो उमीदवार इस परीक्षा को क्लियर कर लेते है, उस उमीदवार को CDPO बनने के तीसरे पड़ाव को पार करना आवश्यक है | 

3. साक्षात्कार (Interview)-

जो उमीदवार मुख्य परीक्षा (Main Exam) को क्लियर (Clear) कर लेता है, उस उमीदवार को साक्षात्कार (Interview) के पड़ाव के लिए बुलाया जाता है | यह CDPO बनने के लिए आखिरी पड़ाव होता है | इस पड़ाव को पार करने के लिए आपको खूब मेहनत करनी होंगी | इस पड़ाव में कुछ बड़े अधिकारी (Senior Officer) मिलकर आपसे कुछ प्रश्न (Question) पूछते है | इन सभी प्रश्नो (Question) के उत्तर (Answer) आपको बिलकुल सहीं से और ढंग से देने होते है, तभी आप इस पड़ाव को आसानी से पार कर सकते हो | इस पड़ाव को पार करके ही आप CDPO बन सकते हो | 

CDPO का वेतन (Salary) कितना होता है? –

CDPO का वेतन (Salary) कितना होता है?
heystudies.com

CDPO के पद (Post) का वेतन (Salary) कितना होता है, यह जानना आवश्यक होता है | क्युकी आप कोई भी जॉब करों, आपको पता होना चाहिए | कि उस जॉब के वेतन में आप अपनी सभी जरूरतों को पूरा कर लेंगे या नहीं | CDPO अधिकारी को खूब अच्छी-खासी सैलरी मिलती है, और उसे सैलरी के साथ-साथ कई सरकारी सुविधाएँ भी दी जाती है |

इस पद के अधिकारी को 35 हज़ार से लेकर 60-70 हज़ार रुपये प्रतिमाह तक वेतन (Salary) प्राप्त होती है | कुछ राज्यों में इस पद (Post) का वेतन (Salary) इससे भी अधिक होती है | CDPO को सरकार की तरफ से कुछ सेवाएं भी फ्री (Free) दी जाती है | जैसे- रहने के लिए मकान, फ्री टेलीफोन और बिजली, सरकारी गाड़ी, नौकर और जॉब की अवधि पूरी होने के बाद इस पद के उमीदवार को पेंशन भी प्रदान की जाती है | 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top