NGO क्या होता है (ngo kya hai)

NGO क्या होता है, NGO के कार्य क्या होते है आदि NGO की पूरी जानकारी वो भी हिंदी में |-

हेलो दोस्तों आप का स्वागत है, आज हम बात करेंगे | एनजीओ (NGO) क्या होता है, NGO के कार्य क्या होते है आदि NGO की पूरी जानकारी वो भी हिंदी में | हमारी यह दुनिया बहुत बड़ी है, और इस दुनिया में करोङो की जनसंख्या में लोग रहते है | कई लोग इस दुनिया में बिलकुल अकेले होते है, कई बच्चे अनाथ होते है, कई गरीब होते है, कई लोगो पर खाना खाने के लिए भी अन्न नहीं होता है |

ऐसे में बिना किसी लालच के बिना किसी स्वार्थ के इस दुनिया में एनजीओ (NGO) एक ऐसा गैर-सरकारी संगठन होता है | जो इनकी सहायता करता है, आज की दुनिया में कोई अपने किसी संगे व्यक्ति की मदद करने से कतराते है | ऐसे में एनजीओ (NGO) ही एक ऐसी गैर-सरकारी संस्थान है, जो इन अनाथ, बेसहारा, गरीब और भूखे व्यक्ति की सहायता करते है | NGO द्वारा पर्यावरण की रक्षा भी की जाती है | कई व्यक्ति अपने बूढ़े माता-पिता को घर से निकाल देते है, कई बच्चो के माता-पिता नहीं होते है |

कई लड़कियों के विधवा होने के बाद उन्हें समाज में कोई नहीं अपनाता | कई लोग घर से बेघर हो जाते है | ऐसे में उनका इस संसार में कोई नहीं होता है, कोई उनकी मदद नहीं करता | ऐसे में सिर्फ उन बेसहारा, बेघर, बूढ़े माता-पिता, अनाथ बच्चे, विधवा औरत की मदद सिर्फ एनजीओ ही करता है | वो भी बिना किसी लालच और स्वार्थ के | एनजीओ ऐसे सभी लोगों के लिए फरिश्ते के रूप में कार्य करता है, जिनका कोई नहीं होता |

अगर आप NGO से जुडी हुई और जानकारी जानना चाहते हो, जैसे- कि एनजीओ कैसे कार्य करता है, एनजीओ की स्थापना कैसे की जाती है, एनजीओ कितने प्रकार के होते है, एनजीओ में कितने प्रकार के पद होते है आदि एनजीओ से जुडी हुई पूरी और सहीं जानकारी आज में आपको दूँगा | तो एनजीओ के बारे में अच्छे से जानने के लिए जुड़े रहिये हमारे साथ में आपको NGO के बारे में सब कुछ बताऊंगा | 

NGO (Non Governmental Organization) क्या है?

NGO (Non Governmental Organization) क्या है?
heystudies.com

NGO एक गैर-सरकारी संगठन होता है | एनजीओ के नाम से ही पता चलता है, कि यह संगठन सरकारी नहीं होता है | एनजीओ एक निजी संगठन होता है, जो गरीब, बेसहारा, विधवा, अनाथ लोगो की मदद करता है | यानि की जो व्यक्ति गरीब होते है, उन्हें एनजीओ द्वारा खाना खिलाया जाता है | और उन्हें एनजीओ में रखा जाता है | जो औरते विधवा होती है, और समाज में उन्हें कोई नहीं स्वीकारता वो एनजीओ में रह सकती है |

जो बच्चे अनाथ होते है, उन बच्चो को एनजीओ द्वारा ही पढ़ाया जाता है | जिन बूढ़े माता-पिता को घर से निकल दिया जाता है, उनकी सेवा एनजीओ द्वारा ही की जाती है | एनजीओ द्वारा पर्यावरण की भी रक्षा की जाती है | यानि कि एनजीओ एक ऐसी गैर-सरकारी संस्थान है, जो गरीब, बेसहारा, अनाथ बच्चे, बूढ़े माता-पिता, विधवा औरते आदि की मदद करते है और उनके लिए एक फरिश्ते के रूप में आते है | NGO इन सभी लोगों की मदद बिना किसी लालच और स्वार्थ के करता है | 

Note :- अगर आप जाना चाहते है |

NGO की Full Form क्या होती है |-

NGO एक गैर-सरकारी संगठन है, जिसे सरकार द्वारा नहीं चलाया जाता है | कई लोगो के मन में एक सवाल आता होंगा, कि NGO की Full Form क्या होती है | आज में उन लोगों को एनजीओ की Full Form के बारे में बताता हूँ, और उनके इस प्रश्न का जवाब देता हूँ | NGO की Full Form- Non Governmental Organization (गैर-सरकारी संगठन) कहते है | एनजीओ समाज के कल्याण के लिए बहुत कार्य करता है, वो भी बिना लालच और स्वार्थ के | दुनिया में इसके सम्मान के लिए 27 February को World NGO Day मनाया जाता है | 

NGO कैसे कार्य करता है |-

save soil NGO कैसे कार्य करता है?
Save Soil

अब आप यह तो जान चुके हो, कि एनजीओ क्या होता है, एनजीओ की Full Form क्या है | अब हम जानते है, कि एनजीओ कैसे कार्य करता है | अगर आपको एनजीओ से जुडी हुई सभी जानकारी हासिल करनी है, तो जुड़े रहिये हमारे साथ | में आज आपको एनजीओ कैसे कार्य करता है, के बारे में बताता हूँ |

NGO को वैसे कोई भी व्यक्ति खोल सकता है, लेकिन एनजीओ खोलने के लिए कम से कम 7 लोग होने आवश्यक होते है, 7 से अधिक लोग मिलकर भी एनजीओ खोल सकते है | जिन लोगो को समाजसेवा करनी होती है, और गरीब, बेसहारा, अनाथ लोगो की सहायता करनी होती है | वो भी बिना किसी लालच और स्वार्थ के | ऐसे लोगो के समूह मिलकर ही NGO का निर्माण करते है | NGO एक गैर-सरकारी संगठन होता है, यानि की एनजीओ को सरकार द्वारा नहीं चलाया जाता है |

एनजीओ को समाजसेवी के समूह के द्वारा चलाया जाता है | NGO को आप सरकार द्वारा रजिस्टर करके भी चला सकते हो, और बिना रजिस्ट्रेशन के भी आप एनजीओ को चला सकते हो | अगर आप एनजीओ को सरकार द्वारा रजिस्टर कराते हो, तो आपको सरकार की तरफ से समाजसेवा के लिए आर्थिक सहायता ही प्राप्त हो सकती है | 

NGO के क्या-क्या कार्य होते है |-

NGO के बहुत सारे कार्य होते है, एनजीओ एक गैर-सरकारी संगठन होता है | एनजीओ समाज की सेवा करता है, वो भी बिना किसी लालच और स्वार्थ के | कई लोग सोचते होंगे, कि आखिर एनजीओ के क्या-क्या कार्य होते है | में उन लोगो को बता दूँ, एनजीओ समाजसेवा का कार्य करता है | कुछ कार्यों के बारें में आपको नीचे बता रहा हूँ | 

  • यह उन बच्चो की पढ़ाई में सहायता करते है, जो गरीब और अनाथ होते है | 
  • यह उन गरीब लोगों को खाना भी खिलाते है, जिनपर खाने के लिए कुछ नहीं होता है | 
  • यह उन बुजर्ग माता-पिता की सेवा भी करते है, जिन्हे उनके बच्चो द्वारा उन्हें घर से निकाल दिया जाता है | 
  • यह बीमार लोग जो दवाई नहीं खरीद सकते है, उन्हें दवाई भी दिलवाते है | 
  • यह स्कूल में बच्चो का अच्छा भोजन मिले, उसके लिए भी सहायता करते है | 
  • यह उन बच्चो की पढ़ाई करने में सहायता करते है, जो आर्थिक रूप से कमजोर है | यह उनकी फीस और उनकी किताबे लेने में उनकी सहायता करते है | 
  • यह उन बेसहारा, अनाथ लड़कियां और विधवा औरतो को रहने के लिए आवास भी देते है | 
  • यह गरीब बच्चो को भी अच्छी शिक्षा मिले, उसके लिए भी मदद करते है | 
  • किसी ऐसे व्यक्ति की बीमारी के इलाज में उनकी सहायता करते है, जिनकी आर्थिक स्थिति ज्यादा अच्छी नहीं है | 
  • यह प्रदूषण को रोकने के लिए पेड़-पौधे लगते है, और उनकी रक्षा भी करते है | 
  • यह जल बचाने के लिए भी कार्य करते है, और लोगो को आसानी से शुद्ध पेय जल प्राप्त हो | इसकी भी पूरी कोशिश करते है | 
  • यह आदिवासी लोगो की समस्या को हल करने में उनकी सहायता करते है | 
  • यह कई गरीब लोगो का मुफ्त इलाज करवाते है, और उन्हें कई तरह की मुफ्त दवाई भी देते है | 

आदि कई सारे कार्य एक NGO द्वारा समाज की सेवा के लिए किये जाते है | जो व्यक्ति समाज की सेवा करना चाहते है, वो NGO के साथ जुड़ सकते है | वरना यह NGO की आर्थिक रूप से भी सहायता कर सकते है | 

NGO कितने प्रकार के होते है |-

NGO कितने प्रकार के होते है
heystudies.com

कई लोगों का सवाल है, कि आखिर NGO कितने प्रकार के होते है | तो आज में उन लोगों के इस सवाल का भी जवाब दे देता हूँ | एनजीओ 5 प्रकार के होते है, आइये में आपको NGO के पांचों प्रकारों के बारे में बताता हूँ | वो भी अच्छे से तो जुड़े रहिये हमारे साथ एनजीओ से जुडी हुई सभी जानकारी जानने के लिए | 

1. Bingo-

इस NGO का पूरा नाम- Business Friendly International NGO होता है, इस NGO का निर्माण गरीब लोगों को अपने खुद का बिज़नेस स्टार्ट करने के लिए आर्थिक सहायता प्रदान करना होता है | 

2. Engo-

इस NGO का पूरा नाम Environmental एनजीओ होता है, इस एनजीओ का निर्माण पर्यावरण और पेड़-पोधो की रक्षा करना और नए-नए पेड़-पौधे लगाना ही इस एनजीओ का कार्य होता है | 

3. Gongo-

इस NGO का पूरा नाम Government-Organized एनजीओ होता है, इसे सरकार द्वारा बनाया जाता है | यह बाकि एनजीओ को निर्देश देती है | 

4. Ingo-

इस NGO का पूरा नाम International एनजीओ होता है, यह एनजीओ उन लोगों की मदद करता है | जो अंतराष्टीय परेशानी से जूझ रहे होते है | 

5. Quango-

इस NGO का पूरा नाम Quasi-Autonomous एनजीओ होता है | इस एनजीओ का कार्य सभी उतपादों की गुणवत्ता को जांचना होता है, जिससे लोगो को शुद्ध गुणवत्ता के उत्पाद प्राप्त हो संके | 

NGO कैसे शुरू करे |-

कई ऐसे लोग जो समाजसेवा करना चाहते है, और गरीब, बेसहारा, विधवा, बुजर्ग, अनाथ, विकलांग व्यक्तियों की सहायता करना चाहते है | तो वो लोग एनजीओ को शुरू कर सकते हो, लेकिन एनजीओ शुरू करने से पहले आप को ऐसे समाजसेवी या ऐसे लोग जो ऐसे गरीब, बेसहारा, अनाथ, विधवा, बुजर्ग और विकलांग लोगो की मदद करना चाहते है को ढूढ़ना होंगा |

आपको ऐसे समाजसेवी का कम से कम 7 लोगो का समूह बनाना होंगा | क्युकी एनजीओ कोई एक व्यक्ति नहीं चला सकता है, एनजीओ चलाने के लिए कम से कम 7 व्यक्ति होने आवश्यक है | आपको एनजीओ शुरू करने से पहले समूह में से लोगो को चुनकर उनके पद देने होंगे | जैसे- कोषाध्यक्ष पद, सचिव, अध्यक्ष, उपाध्यक्ष, सलाहकार सदस्य आदि सदस्य तय करने होंगे | आपको ये पद जिम्मेदार व्यक्ति को देने होंगे | एनजीओ शुरू करने से पहले आपको ये भी निश्चित करना होंगा, कि आप किस प्रकार का एनजीओ खोलेंगे |

आप किस प्रकार के लोगो की सहायता करेंगे, आपको एनजीओ खोलने से पहले अपना मिशन अवश्य तैयार कर लेना चाहिए | आप एनजीओ चलाने के लिए लोगो से, कपनी से संपर्क करके डोनेशन भी प्राप्त कर सकते हो | आप अगर अपने एनजीओ को सरकार द्वारा रजिस्टर करा लेते हो, तो आपको एनजीओ चलाने के लिए सरकार की तरफ से भी आर्थिक सहायता प्राप्त हो सकती है | 

NGO रजिस्टर कराने के लिए क्या-क्या चाहिए?

NGO रजिस्टर कराने के लिए क्या-क्या चाहिए?
heystudies.com

अगर दोस्तों आप भी इन गरीब, अनाथ, विधवा, बजुर्ग, बेसहारा, विकलांग लोगो की सहायता करना चाहते हो | और इन लोगों के लिए एनजीओ खोलना चाहते हो, तो आप अपने NGO को सरकार द्वारा रजिस्टर भी करा सकते हो | अगर आप अपने एनजीओ को सरकार द्वारा रजिस्टर करा लेते हो, तो आपको अपने एनजीओ को चलाने के लिए सरकार की तरफ से आर्थिक सहायता भी प्राप्त हो सकती है |

अगर आप भी इन लोगो की सहायता के लिए एनजीओ खोल रहे हो, तो आप अपने एनजीओ को सरकार द्वारा रजिस्टर कर सकते हो | में आपको एनजीओ सरकार द्वारा रजिस्टर कैसे करें के बारे में भी अच्छे से बताऊंगा | लेकिन आइये पहले हम जानते है, कि एनजीओ को रजिस्टर कराने के लिए किन-किन चीज़ों की आवश्यकता आपको होंगी | 

  • एनजीओ शुरू करने के लिए आपको कम से कम 7 समाजसेवी लोगों के समूह की आवश्यकता होंगी, क्युकी केवल 1 व्यक्ति NGO को नहीं चला सकता है | 
  • Trust Deed/Memorandum of Association
  • Rules and Regulation/Memorandum
  • Articles of Association Regulation
  • Affidavit From President
  • Residence Proof
  • Passport ( Mandatory )
  • Registered Office Address Proof
  • ID Proof ( Aadhar Card/Voter ID )

NGO कैसे रजिस्टर कराएं |-

अगर आप अपने NGO को रजिस्टर करवाना चाहते हो, तो हमारे भारत देश में एनजीओ को रजिस्टर करवाने के लिए 3 एक्ट बनाये गए है | आप इन तीनो एक्ट में से किसी भी एक एक्ट को चुनकर एनजीओ को रजिस्टर करा सकते हो | 

1. Trust Act-

हर एक राज्य के अपने-अपने नियम होते है, लेकिन ट्रस्ट एक्ट के 1882 ट्रस्ट एक्ट के अनुसार 2 ट्रस्टीज होने चाहिए | इसके बाद आपको Charity Commissioner या Register के ऑफिस में जाकर आपको अपने एनजीओ को रजिस्ट्रेशन करने के लिए अप्लाई करना होंगा | इस एक्ट के अनुसार आपको एनजीओ रजिस्टर करने के लिए Deed Docouments की जरूरत पड़ती है | 

2. Society Act-

इस एक्ट के अनुसार NGO को Society की तरह रजिस्टर किया जाता है, लेकिन महाराष्ट्र में इस एक्ट में एनजीओ को ट्रस्टी के तोर पर रजिस्टर किया जाता है | अगर आप अपने एनजीओ को Society Act के अनुसार रजिस्टर कराते हो, तो आपको Memorandum of Association and Rules and Regulation Docouments की आवश्यकता पड़ेगी | और एनजीओ के लिए कम से कम व्यक्तियों 7 व्यक्ति होने आवश्यक है | 

3. Companies Act-

इस एक्ट के अनुसार आपकी कंपनी का रजिस्ट्रेशन कंपनी की तरह होता है | इस एक्ट में अपने एनजीओ को रजिस्टर कराने के लिए आपको Memorandum of Association and Rules and Regulation Docouments की आवश्यकता पड़ती है | इस एक्ट के जरिये रजिस्ट्रेशन कराने के लिए आपको Stamp Paper की आवश्यकता नहीं होती है | इन डॉक्यूमेंट्स को बनाने के लिए आपको सिर्फ 3 सदस्यों की आवश्यकता होती है | 

यह एनजीओ को सरकार द्वारा रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए 3 एक्ट है, आप अपने एनजीओ को इन तीनो एक्ट में से किसी भी एक एक्ट के अंतर्गत करा सकते हो | 

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Scroll to Top